Divya Nirdhar
Breaking News
ठळक बातम्यानागपूर

रिपब्लिकन विचारधारा स्वीकार करे : डा मोहनलाल पाटील

नागपुर : रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (आंबेडकर) के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री दिपकभाऊ निकाळजे जी की अध्यक्षता में नागपुर जिलाध्यक्ष श्री दुर्वास चौधरी जी एवं प्रफुल डांगे व्दारा धम्मचक्र प्ररवर्तन दिवस पर आयोजित पार्टी की सभा को राष्ट्रीय महासचिव डा मोहनलाल पाटील ने संबोधित करते हुए कहा कि बहुजन और मुलनिवासी विचारधारा से भ्रमित होकर बाबासाहेब आंबेडकर जी व्दारा हमें दी गई रिपब्लिकन विचारधारा त्याग करनेवाले लोगों से अपील की है की वे पुनः विचार करे मुख्य धारा में लोट आये। बहुजन और मुलनिवासी विचारधारा ने सत्ता का लालच देकर, चंदाखोरी कर वर्षों से आम्बेडकरवादी का शोषण कर रहे है। नागपुर के जवाहर वस्तीगृह हाॅल, सिव्हिल लाईन में आयोजित रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (आंबेडकर) की सभा में पार्टी के नेताओं में आंध्रप्रदेश के नेता पिट्टा वरा प्रसाद, कर्नाटक के श्री जितेन्द्र कांबले, श्री महेश गोरलानकर*, मध्यप्रदेश से कुवरलाल रामटेके*, छत्तीसगढ़ के हर्षकिरण मेंढ़े तथा महाराष्ट्र के नेताओं में सर्वश्री बालासाहेब पवार, दादासाहेब ओव्हाल, कैलाश जोगदंड, अरुण भिंगारदिवे, शशिकांत दारोले, सचिन खरात, अशोक गायकवाड़, प्रविण पवार, सचिन कोकणे, तानाजी मिसळे, गणेश भोसले, राजाभाऊ कटारने, आकाश घोडके, ईश्वर सागले, किरण बगाडे, प्रविण घोडके, पंचम एवं मध्यप्रदेश के प्रकाश रणवीर, धनराज शेन्डे, उमेश नारनवरे तथा विदर्भ के सर्वश्री कैलाश मोरे, महेन्द्र मुनेश्वर, राजेन्द्र नितनवरे, संतोष इंगले, प्रिया खाडे, सीमा सरदार तथा नागपुर जिला के भिमराव डोंगरे, सारंग जीवने, आर एस वानखेड़े, सीमा सरदार, समाधान पाटील, कृष्णा गवईकर, गुप्तमन्यु मेश्राम आदि उपस्थित थे। इस कार्यक्रम का सफल बनाने में एड. सुहास चौधरी, श्रवण वाघ, भिवापूर तालुकाध्यक्ष नरेंद्र ढोणे, उमरेड तालुकाध्यक्ष जयेंद्र महाजन, प्रभारी रिद्धेश्वर बेले, नागपूर जिल्हा कार्याध्यक्ष डॉ. प्रभाकर मोटघरे, युवा अध्यक्ष अमोल वानखेडे, रामदास गजभिये, गौरव , मंगेश काडवु, का विशेष योगदान रहा है।

 

संबंधित पोस्ट

असंघटितांसाठी कामगार संघटनांनी एकसंध व्हावे ः सुभाष लोमटे

divyanirdhar

ऍड. प्रकाश आंबेडकर यांनी मा. कांशीरामजी यांची कॉपी केली : नवनियुक्त बसपा गटनेते जितेंद्र घोडेस्वार

divyanirdhar

`मजीप्रा` च्या कर्मचार्‍यांचे काळ्याफिती लावून काम

divyanirdhar

आरक्षणासाठीच नाहीतर उद्योगातील वाट्यासाठी लढा : डी.डी. सोनटक्के

divyanirdhar

शेतकरी झाला कासावीस, खोके सरकार ४२०

divyanirdhar

हुकूमचंद आमधरे यांच्या प्रयत्नाने उन्हाळी ज्वारीच्या खरेदीमर्यादेत वाढ

divyanirdhar